न्यू मीडिया में हिन्दी भाषा, साहित्य एवं शोध को समर्पित अव्यावसायिक अकादमिक अभिक्रम

डॉ. शैलेश शुक्ला

सुप्रसिद्ध कवि, न्यू मीडिया विशेषज्ञ एवं प्रधान संपादक, सृजन ऑस्ट्रेलिया

सृजन ऑस्ट्रेलिया | SRIJAN AUSTRALIA

6 मैपलटन वे, टारनेट, विक्टोरिया, ऑस्ट्रेलिया से प्रकाशित, विशेषज्ञों द्वारा समीक्षित, बहुविषयक अंतर्राष्ट्रीय ई-पत्रिका

A Multidisciplinary Peer Reviewed International E-Journal Published from 6 Mapleton Way, Tarneit, Victoria, Australia

डॉ. शैलेश शुक्ला

सुप्रसिद्ध कवि, न्यू मीडिया विशेषज्ञ एवं
प्रधान संपादक, सृजन ऑस्ट्रेलिया

श्रीमती पूनम चतुर्वेदी शुक्ला

सुप्रसिद्ध चित्रकार, समाजसेवी एवं
मुख्य संपादक, सृजन ऑस्ट्रेलिया

placeholder.png
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on linkedin
LinkedIn
काव्य धारा
sandeepk62643

ख़ुद को भी जानो

ख़ुद को भी जानो दुनिया की इस भाग दौड़ में खुद को भी कुछ समय दो ।क्या कर

Read More »
काव्य धारा
sandeepk62643

आँगन में खेलते बच्चे

आँगन में खेलते बच्चे आँगन में खेलते रंग-बिरंगे बच्चे,लगते कितने प्यारे कितने अच्छे !फूलों-सी मुस्कान है-चेहरों परऔर आँखों

Read More »
काव्य धारा
sandeepk62643

बिना तेरे

तेरा हो जाऊँ तेरा हो जाऊँ तेरी बाहों के सिरहाने पे, सर रख कर सो जाऊँ ।तेरे हसीं

Read More »
अन्य काव्य विधाएं
sandeepk62643

प्यार

प्यार बड़ा-छोटा काला-गोरामोटा-पतलाअमीर-गरीबहर किसी को हो सकता है-किसी से प्यार ,यह ना माने सरहदें, ना देखे दरो-दीवार,हंसी-बदसूरत,बुढ़ा-जवान,तंदरूस्त-बीमार,यहाँ सबके

Read More »
काव्य धारा
sandeepk62643

छोने को सीख

छोने को सीख   आ मेरे प्यारे छोने ! आज जी भर के तुझे चूम लूँ ,संग तेरे

Read More »
ग़ज़ल
sandeepk62643

मुल्क़ के हालात

मुल्क़ के हालात आजकल मेरे मुल्क़ के हालात बहुत ख़राब हो गए हैं ;आवाम पर सफ़ेदपोश लुटेरों के

Read More »
कथात्मक व्यंग्य
sandeepk62643

जंगल में चुनाव

जंगल में चुनाव   डैशबोर्ड मेरा खाता रचनाएं/आलेख भेजिए लॉग आउट              

Read More »
बालगीत
sandeepk62643

चाँद से सवाल

चाँद से सवाल चंदा मामा हमारे घर भी आओ ना,मेरे संग बैठकर हलवा-पूड़ी खाओ ना । मुझे करनी

Read More »
ग़ज़ल
sandeepk62643

यूँ मायूस मत बैठो

यूँ मायूस मत बैठो । यूँमायूस मत बैठो, हँसों मुस्कुराओं दोस्तों ।ख़्वाब से निकलो हक़ीक़त में आओ दोस्तों

Read More »