न्यू मीडिया में हिन्दी भाषा, साहित्य एवं शोध को समर्पित अव्यावसायिक अकादमिक अभिक्रम

डॉ. शैलेश शुक्ला

सुप्रसिद्ध कवि, न्यू मीडिया विशेषज्ञ एवं प्रधान संपादक, सृजन ऑस्ट्रेलिया

सृजन ऑस्ट्रेलिया | SRIJAN AUSTRALIA

6 मैपलटन वे, टारनेट, विक्टोरिया, ऑस्ट्रेलिया से प्रकाशित, विशेषज्ञों द्वारा समीक्षित, बहुविषयक अंतर्राष्ट्रीय ई-पत्रिका

A Multidisciplinary Peer Reviewed International E-Journal Published from 6 Mapleton Way, Tarneit, Victoria, Australia

डॉ. शैलेश शुक्ला

सुप्रसिद्ध कवि, न्यू मीडिया विशेषज्ञ एवं
प्रधान संपादक, सृजन ऑस्ट्रेलिया

श्रीमती पूनम चतुर्वेदी शुक्ला

सुप्रसिद्ध चित्रकार, समाजसेवी एवं
मुख्य संपादक, सृजन ऑस्ट्रेलिया

देश भक्ति काव्य लेखन प्रतियोगिता

Spread the love
image_pdfimage_print

 

 

 

परिचय: 

 नाम   –  डॉ . पद्मावती

जन्म स्थान -दिल्ली,

मातृ भाषा-   तेलुगु

शैक्षिक योग्यता – एम ए ,एम फ़िल , पी.एच डी , स्लेट. (हिंदी)

अध्यापन कार्य -गत 15 वर्षों से हिंदी भाषा साहित्य का अध्ययन और अध्यापन कार्य,   महाविद्यालयों और विश्वविद्यालयों में अतिथि व्याख्यान .

   प्रकाशन   –   विभिन्न पत्र -पत्रिकाओं में 10 से अधिक शोध आलेखों का प्रकाशन .

राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय संगोष्टियो में प्रतिभगिता और शोध पत्रों का प्रस्तुतीकरण .

प्रसारण-   आकाशवाणी पर आलेखों का प्रसारण .

विभिन्न साहित्य शिविरों और कार्यशालाओं में सक्रिय सहभागिता .

रुचि-  दर्शन , इतिहास , यात्रा, साहित्य में विशेष रुचि .

सम्पर्क;  सहायक आचार्य, हिंदी विभाग, आसन मेमोरियल महाविद्यालय ,चेन्नई, तमिलनाडु.

[email protected]                     9789924539, 9080232606

 

——————————————————————————————————————————–

 

 

                               धन्य धन्य ये भारत भूमि.

                         वंद्य  वंद्य हे भारत भूमि !!!!!!

मधुमय स्वर्णिम  पावन भूमि,

संत विभुओं की तपोवन  भूमि,

स्वर्ग तुल्य  मनोहारी  भूमि, 

अनुपम श्रद्धा का आधार यह भूमि !!!

 

भक्तानुरागियों की है वैराग्य भूमि,

वीर सुपूतों की यह है कर्म भूमि,

अतुल संपदा का भण्डार है यह भूमि,

प्रेम रस पूरण अमृतमयी है स्वर्ण भूमि !!1!

 

 

है यह वह भूमि जिसने जगत  को ,

प्रेम  सुधा का  है घूँट पिलाया,

 क्षमा ,त्याग, करुणा आदर्श  है इसके ,

ध्यान योग का है मंत्र सिखाया !!!!!

 

ज्ञान वृष्टि की कुसुमित भूमि,

त्याग  बलिदानों से  मुकुलित  भूमि,

विश्व विजयी है भारत भूमि,

शांति, अहिंसा तप की भूमि !!!!

 

 

इस मिट्टी से उगता है सोना,

ब्रह्मांड उदर का कोना कोना ,

तृप्त  कल-कल अमृत नदियाँ,

कृष्ण, कावेरी  गंगा ,जमुना !!!!

 

ललाट है भाल स्वरूप हिमालय ,

तीर्थ-स्थलों की पावन भूमि.,

द्वादश ज्योतिर्लिंग उदर में,

बद्री, कैलाश समागम भूमि  !!!!!  

 

पूरब का है  प्रहरी पर्वत ,

सुंदर बन से सघन विपिन वन,

हरित हरितिमा से आलोड़ित,

बहती पवन गुंजार करती यह भूमि.!!!

 

पश्चिम में है अतुल पयोनिधि ,

गहन विशाल लहरों की परिधि,

रक्षा करती शत्रु से अविचल,

अनल उगलती नीचे तपती मरुभूमि   !!!!!

 

दक्षिण का है दिव्य वैभव,

पद- प्रक्षालन करें त्रिदिश रत्नाकर,

भव्य उत्तुंग शिखर से मंदिर,

ज्ञान, भक्ति ,कला की संगम भूमि   !!!!!

 

 

कबीर, मीरा,  टैगोर की भूमि,

नामदेव, आसन, भारती की  भूमि,

 विवेक, महावीर ,बुद्ध  की यज्ञ भूमि,

शंकर, मध्व, रामानंद ,चैतन्य की आनंद भूमि   !!!!!!!

 

यहाँ ज्ञानियों की दिव्य दृष्टि ने ,

भू मण्डल  आलोकित किया,

सदियों पूर्व ही धरा और नक्षत्रों के,

समय ,दूरी का ज्ञान दिया   !!!!

 

अंड ,पिंड, ब्रह्मांड का  ज्ञान,

सृष्टि का गूढ़  छद्म  संज्ञान ,

अजर अमर संतों की वाणी  ,

 साक्षी भूत निरूपित करती  यह योग भूमि  !!!!

 

यह भूमि है कई रंगो की,

कई बोलियों की, कई भाषाओं की ,

हर प्रदेश की अपनी बोली,हर प्रदेश की अपनी भाषा,

लेकिन एक संस्कृति, एक आचार ,एक विचार की पोषक भूमि !!!!!

 

है  प्रार्थना ईश्वर से, किया धन्य दे कर जन्म यहाँ,

आगे  करना एक अनुग्रह, हर बार जन्म ले इस भूमि पर ,

हर बार जन्म ले इस भूमि पर ,यह है एक आकांक्षा मेरी,

तारण मोक्ष प्रदात्री भूमि,तारण  मोक्ष प्रदात्री भूमि !!!!

 

धन्य धन्य है भारत भूमि,

वंद्य वंद्य है पावन भूमि !!!1!

 

===================== ===========================================

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

                     

 

 

 

 

Last Updated on January 10, 2021 by padma.pandyaram

Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on linkedin
LinkedIn

More to explorer

*युवाओं के प्रेरणास्रोत स्वामी विवेकानंद जी की पुण्य तिथि पर एक कविता*

Spread the love

Spread the love Print 🖨 PDF 📄 eBook 📱*युवाओं के प्रेरणास्रोत स्वामी विवेकानंद*(स्वामी विवेकानंद जी के पुण्यतिथि पर समर्पित)**************************************** रचयिता :*डॉ.विनय कुमार

*वैश्विक आध्यात्मिक गुरु-स्वामी विवेकानंद जी की पुण्य तिथि पर एक लेख*

Spread the love

Spread the love Print 🖨 PDF 📄 eBook 📱*वैश्विक आध्यात्मिक गुरु-स्वामी विवेकानन्द*(पुण्यात्मा स्वामी विवेकानंद जी की पुण्य तिथि पर एक लेख)****************************************  

22 thoughts on “देश भक्ति काव्य लेखन प्रतियोगिता”

  1. Super description of land, people and maha purushas, heritage. It gives pride for the readers about our country.
    Keep it up madam

    1. Iss kavitha mae bataigai har ek baat dil ko choo lene wali hae…….bahut hi sunderta se har hamare desh aur hamare culture ka varnan kiya gaya hae………aur akhir mae iss bharat desh mae hamare har janam ho ,mera personal favourite lines hae.
      Thankyou Mam for this Beautiful Poem.

  2. संक्षिप्त परिचय
    नाम-रेणु बाला धार जिला-रांची
    पता-M/16,(D.S.)हरमु हाउस सिंग कौलनी , रांची झारखंड
    दूरभाष-9973086474
    शिक्षा—स्नातकप्रतिष्ठाअर्थशास्त्र,+बीएड+डीसीए
    पद-लेखिका एवं कवयित्री,पूर्व शिक्षिका एवं सदस्या-मा.अ.सु.न्या.संघ,रांची
    विधा—गद्य एवं पद्य
    सदस्यता-झारखंड महिला काव्य मंच, रांची,रा.क.संगम,रांची इकाई,शी.सा.परिषद,रांची
    उपलब्धियां–विभिन्न साहित्यिक गतिविधियों में शामिल होना और प्रशस्ति पत्र या सम्मान की प्राप्ति
    प्रकाशित रचनाएं-विभिन्न पत्र पत्रिकाओं में प्रकाशित हुआ है जैसे कि प्रभात खबर, दैनिक जागरण , हिमाचल प्रदेश से प्रकाशित मासिक पत्रिका हिमखंड ,, राष्ट्रीय मेल, चित्रांश आदि में रचनाएं प्रकाशित
    प्रकाशित पुस्तकें—राष्ट्रीय स्तर पर संगृहीत काव्य संग्रह यथा दर्पण ,आकाश की ओर, वक्त की तलाश ,गीतांजलि, काव्यांजलि और हे पवन इत्यादि साझा संकलित पुस्तकें
    अन्य गतिविधियों–बिगत दस साल से आकाशवाणी रांची द्वारा मेरे गीतों की रिकार्डिंग और उसके नियमित प्रसारण एवं पुनर्प्रसारण
    इस वर्ष 26जनवरी को दिल्ली में हुए सतमोला कवियों की चौपाल,में शामिल मेरे काव्य पाठ का टीवी प्रसारण
    काव्य कुटुंब के पहले राष्ट्रीय अधिवेशन, दिल्ली में आमंत्रित होकर काव्य पाठ की प्रस्तुति जहां शाल ओढ़ाकर सम्मानित किया गया
    सम्मान_*शब्द शिरोमणि** राष्ट्रीय काव्य कुटुंब, दिल्ली,* कलमशिशु *झारखंड राइटर्स एसोसिएशन , * साहित्य श्री** हिमाचल प्रदेश, *काव्य श्रेष्ठ*हिमखंड राष्ट्रीय प्रकाशन, मंडी,आनलाइन कवि सम्मेलन रचनाकार प्रमाण पत्र इत्यादि ्इसके अलावे हमारी वाणी,सारा *सच, दिल्ली* द्वारा लगातार अपडेटेड सूची में प्रथम स्थान से सातवें स्थान के बीच का रैंकिंग मिलना और सारा सच मीडिया द्वारा प्रसारित कौ *.ब.का.किंगसम्मान* पत्र तथा *सतमोला की चौपाल,दिल्ली* द्वारा कवि सम्मान की प्राप्ति इत्यादि।सन2020 *मेंआठ साझा* संकलित पुस्तक में मेरी रचना प्रकाशित तथा एक ही साल मे25–30काब्य सम्मान की प्राप्ति *voice of heart*की ओर से राष्ट्रीय काव्य प्रतियोगिता में अगस्त से दिसंबर तक लगातार छह महीना सर्वश्रेष्ठ स्थान का मिलना और सबसे खास उपाधि best writer award of the *year -2020*का मिलना।

    इ-मेल **[email protected]*

  3. Excellent poetry padma ji👌💐🌹💐🙏 hrudayapurvak abhinandanalu🙏 देश भक्ति कविता हृदय को टच किया🙏धन्यवाद
    जी🙏श्रीदेवी रमेश,चेन्नई

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!